छोटे-छोटे बच्चों के हाथों में फूल हैं या काटें ..! – बाल-श्रम

0
268
views
छोटे-छोटे बच्चे फूल बेकते हुए - बाल-श्रम

भारत में ट्रैफिक सिग्नल, मेट्रो, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन ऐसे जगहों पर आपको छोटे-छोटे बच्चे फूल या कोई सामान बेचते मिल जायेंगे। आपने शायद उन बच्चों से फूल या सामान खरीदा भी होगा। भारत में जहां 14 साल से कम उम्र के बच्चों से काम कराना बाल-श्रम (Child Labour) के अन्दर आता है।

ऐसे में कभी सोचा है ये बच्चे क्यों फूल बेच रहें हैं? क्या आपने कभी इन छोटे बच्चों से बात की है? कभी पूछियेगा ये आपको यही बोलते मिलेंगे की भूक लगी है। अगर आप इन बच्चों को खाना देंगे तो ये बड़े चाव से खा भी लेंगे।

छोटे-छोटे बच्चे फूल बेकते हुए

बच्चों से काम करवाने की मानसिकता …

ये बच्चे ऐसे गिरोह के शिकार होते हैं जो इन बच्चों से काम कराते हैं। या बहुत से मामलों में बच्चों के माता-पिता की मानसिकता ऐसी होती है की वो लोग अपने ही बच्चे को काम पर लगा देते हैं। हम आप जैसे लोग ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद भी अपना बिजनेस नहीं खड़ा कर पाते। क्या इन छोटे-छोटे बच्चों को पता होगा की ऐसी जगहों पर बिक्री अच्छी होती है?

बच्चों का अवैध व्यापार

हम आप इतनी जल्दी में निकलते हैं की हमारा इन बातों पर ध्यान ही नहीं जाता है। इनमें से कुछ बच्चों को अगवा कर के दूसरी जगह भेजा जाता है ताकि इनसे काम कराया जा सके। इन सब के बाद इन बच्चों को डरा कर, धमका कर, भूखा रख कर, या मार पीट कर ट्रेनिंग मिलती है ताकि यह बच्चें बताये न की किसने इनको यहाँ भेजा है। सरकार ने ऐसे गिरोह को पहले बहुत बार पकड़ा है। लेकिन फिर भी ये सब बंद नहीं हुआ।

बाल-श्रम से जुड़े कुछ चोकने वाले तथ्य।
 बाल-श्रम से जुड़े तथ्य
Image Credit : Pinterest
एक घटना

एक मित्र ने कुछ दिन पहले ऐसी ही छोटी बच्ची से बात की, बच्ची बोली की भूक लगी है। जब और बात की तो बच्ची बोली की “माँ बाबा तो हमे छोड़ कर गाँव चले गए हैं, और हम लोग 4 भाई बहन है। खुद कमाते हैं और खाते हैं। ”

वो बच्ची इतनी सफाई से समझा पा रही थी की उसे कोई ट्रेनिंग मिली हो। उस बच्ची की उम्र शायद 3 या 4 साल की हो। चंद पैसों के लिए क्यों इन छोटे-छोटे बच्चों का बचपन कुचल दिया जाता है? ऐसी जगहों पर पुलिस होती है, लेकिन फिर भी कोई एक्शन नहीं लिया जाता।

हमारे समाज सुधारक संस्थान और सरकार बच्चों के अवैध व्यापार को रोकने की पुरजोर कोशिश कर रही है पर शायद उन्हें पूरी तरह सफलता नहीं मिल रही है।

चाइल्ड हेल्पलाइन

अगर आपको ऐसा कोई बच्चा मिलता है जो बाल-श्रम का शिकार है तो आप चाइल्ड हेल्पलाइन पर कॉल कर सकते हैं। उसका नंबर है : 1098

 बाल-श्रम हेल्प लाइन नंबर 1098
बाल-श्रम हेल्प लाइन नंबर 1098

“बाल-श्रम के सामाजिक बुराई है,

इसे रोकने में सहायक बने”